LIC New Plan: अब बुढ़ापे में पैसों की नो टेंशन, सिर्फ इतने रुपये निवेश से हर माह मिलेंगे 8 हजार रुपये

जिंदगी में कब क्या हो जाए कुछ पता नहीं चलता है। ऐसे में अपनी कमाई से थोड़ा इन्वेस्टमेंट (investment) करना बेहद जरुरी है। हालांकि, जब बात कहीं पैसे इन्वेस्ट (money investment) करने की आती है तो हम बाजार में मौजूद कई स्कीमों में उलझकर रह जाते हैं। जिनमें रिस्क का भी चांस ज्यादा रहता है। देश की सबसे पुरानी कंपनी भारतीय जीवन बीमा (LIC Life Insurance) की अगर बात करें तो इस बीमा कंपनी ने ज्यादातर लोगों का विश्वास जीत रखा है। इसलिए अपने आने वाले कल की चिंता एलआईसी (LIC) पर छोड़कर इन्वेस्ट करना पसंद करते हैं। अगर आप भी अपने फ्यूचर को लेकर चिंतित है और सोच रहे हैं कि कैसे अपना बुढ़ापा आराम से गुजार सकेंगे तो अब इसकी फिक्र करना छोड़ दे, क्योंकि LIC आपके लिए एक नई स्कीम लेकर आई है। जिससे आपका कल अच्छा हो सकता है। आइए आपको LIC की नई स्कीम के बारे में विस्तार से बताते हैं...

भारतीय जीवन बीमा ने नई रिटायरमेंट पॉलिसी की शुरुआत की है, जिसका नाम जीवन शांति पॉलिसी (Jeevan Shanti Policy) है। LIC के पुराने प्लान जीवन अक्षय पॉलिसी (Jeevan Akshay Policy) के जैसे ही जीवन शांति पॉलिसी का प्लान है। इसमें डेफर्ड एन्युटी और इमीडिएट एन्युटी के 2 ऑप्शन दिए गए है। डेफर्ड एन्युटी के तहत पॉलिसी के 5, 10, 15 और 20 साल बाद से आपको पेंशन दी जाएगी, जबकि इमीडिएट एन्युटी में पॉलिसी लेने के तुरंत बाद से पेंशन मिलने लगेगी।

जीवन शांति पॉलिसी मे क्या है खास

जीवन शांति पॉलिसी के तहत रिटायरमेंट के बाद पैस की कोई टेंशन नहीं होगी। इसकी खासियत है कि आप अपनी मर्जी से पेंशन की शुरुआत करा सकते हैं। ये एक सिंगल प्रीमियम प्लान है। इसमें आपको अपने निवेश उम्र के अनुसार पेंशन की रकम तय की जाती है। निवेश और पेंशन के शुरू करने की समय को देखा जाएगा। इन दोनों में जितनी अवधि और जितनी ज्यादा उम्र होगी आपको उतनी ही पेंशन दी जाएगी। ऐसे में आप अपना बुढ़ापा या रिटायरमेंट लाइफ बिना किसी टेंशन के बिता सकेंगे।

कितने रुपये का करना होगा निवेश

जीवन शांति पॉलिसी के तहत आपके द्वारा किए गए निवेश पर 9.18 प्रतिशत के मुताबिक पेंशन दी जाएगी। अगर कोई 10 लाख रुपये का निवेश करता है तो उसे 5 साल बाद पेंशन के तौर पर सालाना 91800 रुपये पेंशन दी जाएगी। इस पॉलिसी का लाभ उठाने के लिए आप अपने मर्जी के मुताबिक निवेश रकम दे सकते हैं। जितनी निवेश राशि और जितनी उम्र में आप पैसे देंगे उस हिसाब से आपको पेंशन दी जाएगी।

कौन ले सकता है ये पॉलिसी

एलआईसी के अनुसार, कम से कम 30 साल और ज्यादा से ज्यादा 85 साल के व्यक्ति ही योजना का निवेश कर सकते हैं। अगर कोई इस प्लान को शुरू होने के बाद सरेंडर करना चाहता है तो ये एक साल बाद ही संभव है। जबकि अगर कोई पेंशन की शुरुआत करवाना चाहता है तो वो 3 महीने के बाद से करा सकता है।