New Smart Composite Cylinder: लोगों को मिली बड़ी सौगात, अब भारी रसोई गैस सिलेंडर की होगी छुट्टी

Indane composite cylinders

Indane composite cylinders

 जनता के लिए एक बड़ी खुशखबरी है, अब उन्हें भारी रसोई सिंलेडर (Heavy Kitchen Cylinder) को और नहीं झेलना पड़ेगा। योगी सरकार (Yogi Government) द्वारा यहां जनता के लिए नए तरह के रसोई गैस सिलेंडर (New LPG cylinder) पेश किया है। कंपोजिट एलपीजी सिलेंडर (Composite LPG Cylinder) पहले वाले सिलेंडर की तुलना में काफी कम वजन का होगा। बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) द्वारा अपने सरकारी आवास पर कंपोजित एलपीजी सिलेंडर पेश किया।

आपको बता दें कि सीएम योगी के सरकारी आवास पर इण्डियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के कार्यकारी निदेशक डॉ उत्तीय भट्टाचार्य पहुंचे थे। जहां उन्हें 10 किलो का पहला कंपोजिट गैस सिलेंडर उन्हें भेट में दिया। साथ ही सिलेंडर के फायदों के बारे में जानकारी दी, आइए आपको इसके बारे में जानकारी देते हैं...

कंपोजित एलपीजी सिलेंडर में क्या है खास

इंडियन ऑयल के नए युग का कंपोजित एलपीजी सिलेंडर एक पारदर्शी सिलेंडर है, ऐसे में बची गैस का पता लग सकेगा। ये सिलेंडर फाइबर से बनाया गया है, जिसके कारण 50 फीसदी हल्का है। बता दें कि इस फाइबर युक्त गैस को आईओसी द्वारा पेश किया गया है। ये सिलेंडर सुविधाजनक और जंगरोधक है। ये सिलेंडर दो वैरिएंट 5 और 10 किलोग्राम में मौजूद है। 5 किलो के सिलेंडर के लिए 2150 रुपये सिक्योरिटी देनी होगी और 10 किलो के लिए 3350 रुपये सिक्योरिटी के तौर पर जमा करना होगा।

अन्य शहरों को भी मिलेगा फाइबर सिलेंडर

उत्तर प्रदेश के लखनऊ की जनता के लिए नए सिलेंडर उपलब्ध हो गए हैं। वहीं, अब कानपुर (Kanpur), वाराणसी (Varanasi), गोरखपुर (Gorakhpur) और प्रयागराज (Prayagraj) में भी कंपोजित एलपीजी सिलेंडर को दिया जा रहा है। पहला फाइबर सिलेंडर (first fiber cylinder) सीएम योगी को दिया गया है और इन्होंने ही इसका शुभारंभ किया है। साथ ही उन्होंने कहा कि पारदर्शी होने की वजह से इसे गैस के खत्म होने से पहले पता लग सकेगा।