आख़िर कौन है विशाल गर्ग, जिसने 2 मिनट की zoom मीटिंग में 900 क़र्मचारियों को किया नौकरी से बाहर

ज़रा सोच कर देखिए क्या होगा जब आप अपने ऑफ़िस की एक VEDIO call मीटिंग अटेंड करे और आपको उसी मीटिंग पर नौकरी से निकाल दिया जाए । ज़ाहिर सी बात है उस सिचूएशन में खुद को सोचना भी बहुत भय पैदा करता है। लेकिन हम लोग तो बस ये सोच रहे है। लेकिन जिनके साथ हुआ उनका क्या रीऐक्शन रहा होगा। आपको बता दें ऐसा ही कुछ हुआ है । Better. Com कर्मचारियों के साथ आपको बता दें की कम्पनी के CEO ने ढाई मिनट की एक ZOOM कॉल मीटिंग के ज़रिए कम्पनी के 900 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया। Better.com के CEO ने एक साथ ढ़ाई मिनट की zoom कॉल मीटिंग में 900 क़र्मचरियों को नौकरी से निकाल दिया। आपको जान कर हैरानी होगी की विशाल गर्ग भारतीय मूल के है और उनके ऐसा करने पर सोशल मीडिया पर उनकी जमकर आलोचना हो रही है।

सबको नौकरी से निकालते वक्त विशाल गर्ग ने कहा ,’ अगर आप इस VEDIO कॉल का पार्ट हो तो आप उन बदनसीबों में से हो होने आज नौकरी से निकाला जा रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक़ CEO विशाल गर्ग ने ऐसा इसलिए किया क्यूँकि वो कर्मचारी काम को अच्छे से नहीं कर रहे थे और साथ ही कम्पनी के कस्टमर चुरा रहे रहे थे । CEO विशाल गर्ग ने कहा की ऐसा करना उनकी मजबूरी थी । वो ऐसा नही करना चाहते थे लेकिन मजबूर होकर ये कदम उठाना पड़ा। वैसे तो अपको पता ही होगा की भारतीय मूल के लोगों ने CEO के रूप में भारत का नाम कितना ऊँचा किया अब उसमें चाहे आप ट्विटर के CEO पराग अग्रवाल को देख लो या गूगल के CEO सुंदर पिचई को देख लो I इन लोगों ने देश विदेश हर जगह देश के नाम को बढ़ाया । लेकिन आज इस ceo को लोग बिल्कुल पसंद नही कर रहे ।

आपको बता दें की विशाल गर्ग ने ये पहली बार नहीं किया है उन्होंने बताया की वह ऐसा पहले भी कर चुके और ऐसा कर के वो बहुत रोए भी थे। उन्होंने इससे पहले जब लोगों को निकाला था । तब भी बहुत कठोरता से बात की थी। और अब फिर उन्होंने ऐसा ही किया जिसके बाद वो लगातार चर्चा में बने हुए है।