सरकारी मदद से सिर्फ 20 हजार रुपये से शुरू कर सकते हैं ये बिजनेस, लाखों में होगी कमाई

आज के समय में अधिकतर लोग अपना खुद का व्यापार (Startup Plan) शुरू करना चाहते हैं। कुछ लोग अपने खुद का बिजनेस (Business Tips) शुरू करने का सपना सच कर लेते हैं तो कईयों का ये सपना पैसों की कमी के कारण अधूरा रह जाता है। अगर आप भी उनमें से एक हैं जो अपना बिजनेस शुरू करना चाहते हैं लेकिन पैसों की तंगी के कारण इसकी शुरुआत नहीं कर पा रहे हैं या फिर आपको ये समझ नहीं आ रहा कि किस बिजनेस में निवेश करना सही रहेगा, तो आइए आपको एक ऐसा बिजनेस आईडिया (Business idea) बताते हैं। जिसे अपनाकर आप हर महीने लाखों रुपये कमा सकते हैं।

जी हां, आज हम आपको एक ऐसा बिजनेस आईडिया बताने जा रहे हैं जिसमें कम निवेश कर ज्यादा मुनाफा पाया जा सकता है। साथ ही इस बिजनेस को शुरू करने के लिए सरकार की ओर से मदद भी मिल सकेगी, यानी सरकार आपको इस बिजनेस को शुरू करने के लिए रकम भी दे सकती है। आइए आपको इस बिजनेस और सरकार की योजना के बारे में बताते हैं...

दरअसल, हम साबुन का बिजनेस के बारे में बात कर रहे हैं। इसके बनाने की फैक्ट्री यानी मैन्युफैक्चरिंग (soap manufacturing) यूनिट के जरिए आप अच्छी कमाई कर सकते हैं। इस बिजनेस (Soap Manufacturing Business) को शुरू करने के लिए सरकार से मदद भी मिल सकेगी। इसमें आप मार्केटिंग कर ज्यादा से ज्यादा मुनाफा पा सकते हैं। इतना ही नहीं इसे छोटे से बड़े स्तर पर भी शुरू किया जा सकता है।

कई कैटेगरी के साबुन बना सकते हैं

साबुन को मशीन और हाथ दोनों तरह से बनाया जा सकता है। मार्केट में कई कैटेगरी के साबुन हैं। आप चाहें तो सभी कैटेगरी के साबुन बना सकते हैं या फिर किसी एक तरह के साबुन की मैन्युफैक्चरिंग कर सकते हैं। इनमें ब्यूटी सोप, किचन सोप, लॉन्ड्री सोप, मेडिकेटेड सोप, परफ्यूम्ड सोप आदि कैटेगरी शामिल हैं। ऐसे में आप इस बिजनेस को शुरू करने से पहले ये देख सकते हैं कि बाजार में किस तरह के साबुन की अधिक मांग है, उस हिसाब से साबुन की प्रोडक्शन शुरू कर सकते हैं।

कितनी जगह की जरूरत

साबुन मैन्युफैक्चरिंग के लिए आपके पास कुल 750 वर्ग फीट जगह होनी चाहिए। इसमें 350 वर्ग फीट जगह बिना ढकी और 500 वर्ग फीट जगह ढकी हुई होनी चाहिए।

कितने रुपये का आएगा खर्चा

साबुन बनाने के लिए हर तरह की मशीनों समेत 8 तरह के उपकरणों की भी जरूरत होती है। ऐसे में करीब 1 लाख रुपये का खर्चा आता है। सरक आप चाहें तो हेंड मेड तरीके साबुन बनाकर कम निवेश करके भी छोटे स्तर में इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं।

मुद्रा स्कीम के तहत 80 प्रतिशत लोन की सुविधा

अगर आपके पास इस बिजनेस को शुरू करने के लिए रकम कम पड़ रही है तो आप सरकार की मुद्रा स्कीम के तहत 80 प्रतिशत लोन ले सकते हैं। ऐसे में अगर आप साबुन बनाने के लिए 1 लाख रुपये लगाते हैं तो मुद्रा स्कीम के तहत 80 हजार रुपये का लोन मिल जाएगा और आपको अपनी जेब से 20% यानी सिर्फ 20,000 रुपये लगाने होंगे.

मेनुफैक्चारिंग यूनिट में इतना खर्चा

वहीं, अगर आप साबुन बनाने की मेनुफैक्चारिंग यूनिट लगाने का सोच रहे हैं तो इसके लिए आपको 15.30 लाख रुपये का खर्चा करना होगा। हालांकि, इसमें यूनिट की जगह, तीन महीने का वर्किंग कैपिटल और मशीनरी शामिल है। ऐसे में सिर्फ 15.30 लाख रुपये में से सिर्फ 3 लाख 82 हजार रुपये का खर्चा होते हैं, क्योंकि बाकी की रकम सरकारी स्कीम के तहत मिल जाती है।

ज्यादा प्रोडक्शन ज्यादा मुनाफा

अगर आप एक साल में लगभग 4 लाख किलो साबुन का कुल प्रोडक्शन करते हैं तो इसकी कुल मूल्य 47 लाख रुपये होगा। मुद्रा स्कीम की मदद लेकर आपको इसमें हर तरह के खर्च और देनदारियों के बाद करीब 6 लाख रुपये का फायदा हो सकता है यानी आपको प्रतिमाह 50 हजार रुपये का शुद्ध मुनाफा होगा। बता दें कि इस बिजनेस में आप जितना ज्यादा मार्केटिंग करेंग और मार्केट की मांग के अनुसार प्रोडक्शन करेंगे आपको उतना ज्यादा मुनाफा हो सकता है।