जानिए कैसा है कुन्नूर में क्रैश होने वाला हेलिकॉप्टर, जिसमें बिपिन रावत थे सवार, क्या हैं इसकी ख़ासियत

तमिलनाडु से एक दुखद ख़बर सामने आई है. तमिलनाडु के नीलगिरि के कुन्नूर जिले में भारतीय वायुसेना का एमआई-17 (MI-17V5) दुर्घटनाग्रस्त हो गया है. कहा जा रहा है कि इसमें कुल 14 लोग सवार थे. विमान के दुर्घटनाग्रस्त होते ही मौके पर राहत बचाव का कार्य भी किया जा रहा है. हेलिकॉप्टर क्रैश में अब तक बताया जा रहा है कि 11 लोगों की जान चली गयी है. इसके अलावा घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक, इस विमान में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी भी मौजूद थी.


वहीं, अगर इस दुर्घटनाग्रस्त विमान की बात करें तो इस हेलिकॉप्टर की अधिकतम रफ्तार 250 किमी/घंटा है. यह 6000 मीटर की अधिकतम ऊंचाई तक उड़ान भरने में सक्षम भी है. एक बार ईंधन भरने के बाद यह 580 किमी की दूरी तय करता है. वहीं, दो सहायक ईंधन टैंक भरने के बाद यह 1065 किमी की दूरी तय कर सकता है. इस हेलीकॉप्टर की सबसे खास बात ये बताई गई है कि इसमें एक साथ 36 आर्म्ड फोर्स को एक साथ ले जाया जा सकता है.


इतना ही नहीं ये भारी से भारी सैन्य समान को अपने लक्ष्य तक पहुंचाने में सक्षम है. इसमें शतर्म-5 मिसाइल्स, S-8 रॉकेट, एक 23 मिमी मशीन गन, पीकेटी मशीन गन्स के अलावा 8 फायरिंग पोस्ट्स भी है जिसे हथियारों को तय लक्ष्य तक भेजने में इस्तेमाल किया जा सकता है.


बताते चलें कि मुंबई हमलें 26/11 के दौरान इस हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया गया था. इसके अलावा साल 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान भी ये इस्तेमाल में आया था.