भारतीय मूल के गौतम राघवन ने अमेरिका में किया देश का नाम रौशन, अमरीकी राष्ट्रपति ने दी ये बड़ी ज़िम्मेदारी

भारतीय मूल के गौरव राघवन ने भारत देश का नाम रौशन कर अमेरिका में पहचान बनाई है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने शुक्रवार को गौतम राघवन का पदोन्नत करते हुए उन्हें व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति के कार्मिकों के कार्यालय का प्रमुख बनाया. वहीं, इससे पहले संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति के कार्मिकों के कार्यालय की निदेशक कैथी रसेल को संयुक्त राष्ट्र बाल कोष की अगली कार्यकारी निदेशक नियुक्त करने के इरादे की घोषणा की.

आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि कैथी रसेल के नेतृत्व में व्हाइट हाउस पीपीओ (PPO) ने लोगों की नियुक्ति विविधता के साथ ये सुनिश्चित करने के लिए लगातार काम किया कि देश की संघीय सरकार अमेरिका को प्रतिबिंबित करे. उन्होंने कहा कि, मुझे खुशी है कि पहले ही दिन से कैथी के साथ मिलकर काम कर रहे गौतम राघवन पीपीओ (PPO) के नए निदेशक होंगे और इस बदलाव से हम एक दक्ष, प्रभावी, भरोसेमंद और संसदीय कार्यबल का निर्माण करने में सक्षम होंगे.

दरअसल, अमेरिका में भारतीयों का आंकड़ा काफी ज्यादा है और अब इस तरह गौतम राघवन जो बाइडेन प्रशासन में शीर्ष पद तक पंहुचने वाले एक और भारतीय अमेरिकी बन गए हैं. भारत देश का नाम गर्व से रौशन करने वाले गौतम राघवन के बारे में बताएं तो उनका जन्म भारत में हुआ.

पालन पोषण सिएटल में हुआ. ग्रेजुएशन स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी से की. वो अपने परिवार के साथ ही वॉशिंगटन में रहते हैं. बताते चलें कि इनकी काफी सारी उपलब्धियां रहीं हैं. गौतम राघवन राष्ट्रपति के डिप्टी अस्सिटेंट रहें हैं. वे विस्ट विंगर्स: स्टोरीज फ्रॉम द ड्रीम चेंजर, चेंज मेकर्स, एंड होप क्रिएटर्स इनसाइड द ओबामा व्हाइट हाउस के संपादक भी हैं.