इन हसीनाओं के चलते गोविंदा ने अपनी पत्नी सुनीता को दिया था धोका, टूटते-टूटते बचा रिश्ता


गोविंदा ने फिल्मो में कदम रखते ही अपने नाम के डंके बजा दिए | एक के बाद एक सुपरहिट मूवीज देने के बाद गोविंदा को बड़ी बड़ी मूवी मिलने लगी और गोविंदा ने अपनी फिल्मो के जरिये तेजी से सफलता की ओर दौड़ लगायी और देखते ही देखते वो इस बॉलीवुड इंडस्ट्री के ऐसे चेहरे बन गए जिनको किसी पहचान की ज़रूरत नहीं और न ही वो किसी पहचान के मोहताज़ ही हैं | गोविंदा ने अपनी अदाकारी से हर किसी को अपना दीवाना बना दिया | गोविंदा की एक्टिंग हो या डांस वो दोनों में इतने माहिर थे की , लोग उनको देख अपने आप ही थिरकने लगते थे | जितनी चर्चा गोविंदा की फिल्मों की रही, उतनी ही चर्चा उनके प्यार की भी रही , वैसे तो गोविंदा काफी सीधे कलाकारों की लिस्ट में गिने जाते थे लेकिन कुछ किस्से ऐसे भी है जिनके चलते गोविंदा अपनी पत्नी सुनीता के साथ अपना रिश्ता तक तोड़ने को तैयार थे | चलिए आपको बताते हैं कि,कौन थी वो दो हसिनाए जिसके चलते गोविंदा ने अपनी पत्नी तक को धोका दिया था |




आपको बता दें कि , गोविंदा ने जब फ़िल्मी दुनिया में कदम रखना तो उनका नाम नीलम कोठारी और रानी मुखर्जी के साथ जुड़ा | इन दोनों के लिए गोविंदा ने अपनी पत्नी सुनीता को भी छोड़ दिया था | गोविंदा की पहली हीरोइन नीलम कोठारी के साथ लोगों को गोविंदा की कमेस्ट्री बहुत पसंद आयी और दोनों ने एक बाद एक साथ मिलकर ब्लॉकबस्टर मूवीज दी | गोविंदा को नीलम काफी पसंद थी और उनके साथ वक़्त बिताना भी गोविंदा को काफी अच्छा लगता था | दोनों ने 10 फिल्मे साथ की और दोनों के बीच नजदियाँ बढ़ने लगी | दोनों की प्रेम कहानी रोज अखबारों पर छपने लिए और बात यहा तक आ गयी की गोविंदा ने नीलम के लिए सुनिया के साथ अपनी सगाई ही तोड़ दी | लेकिन कुछ समय बाद नीलम फिल्मों से गायब हो गयी और गोविंदा फिर से सुनीता के पास लौट आए |



वैसे तो नीलम के साथ रिश्ता खत्म करने के बाद गोविंदा का नाम किसी के साथ नहीं जुड़ा, लेकिन 90 के टाइम में रानी मुखर्जी के साथ काफी सारी फिल्मे की और दोनों एक दूसरे के नजदीक आने लगे , एक बार फिर से रानी मुखर्जी और गोविंदा के बारे में अखबारों में उनके प्यार के किस्से छपने लगे | दोनों ने इस रिश्ते को सबसे छुपाने की बहुत कोशिश की पर ऐसा न हो सका | गोविंदा की शादीशुदा जिंदगी में फिर से तूफ़ान आने लगा | सुनीता ने गोविंदा को खूब खरी खोटी सुनाई जिसके बाद गोविंदा को अपनी गलती का एहसास हुआ और उन्होंने सुनीता से माफ़ी मांगी | यहाँ गोविंदा ने दुबारा कभी ऐसा कुछ नहीं किया और न ही इस तरह की कोई ख़बरें सुनने में आयी |