लखनऊ में बीजेपी और सहयोगी दल की पहली रैली में शमिल होंगे गृहमंत्री अमित शाह

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा समेत अन्य पार्टियों ने कमर कस ली है. उत्तर प्रदेश में चुनावी दौर के चलते आए दिन रैलियां हो रही हैं. बता दें कि आज (शुक्रवार) भारतीय जनता पार्टी अपने सहयोगी दल निषाद पार्टी के साथ उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रैली करेगी. इस रैली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद होंगे.

आपको बता दें कि यह रैली लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर मैदान में आयोजित होने वाली है. वहीं, रैली के लिए भाजपा और निषाद पार्टी ने ‘सरकार बनाओ और अधिकार पाओ’ का नारा दिया है. जानकारी के मुताबिक, इस रैली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ सहयोगी दल निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, केशव प्रसाद मौर्य और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी मंच पर मौजूद रहेंगे.

दरअसल, यूपी में होने वाली इस रैली को आगामी विधानसभा चुनाव के नजरिए से काफी अहम माना जा रहा है क्योंकि प्रदेश में निषाद समुदाय का एक बड़ा वोट बैंक है जिससे चुनाव में फायदा हो सकता है. वहीं, चुनावी लिहाज से इस रैली को समझना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि राज्य की करीब 115 सीटों पर निषाद और मछुआरों का प्रभाव है, ऐसे में भाजपा इस रैली के जरिए प्रदेश की लगभग चार फीसदी आबादी वाले निषाद-मछुआरों के मतदाताओं को अपनी ओर लाना चाहती है. बताते चलें भाजपा के अलावा अभी तक राज्य की सबसे ज्यादा छोटी पार्टियों ने सपा के नेतृत्व को अपनाकर गठबंधन किया है. वहीं, लखनऊ में होने वाली इस रैली की तैयारियों का गुरूवार को जायजा भी लिया गया.