MBA चाय वाले के बाद मिलिए MBA फेल कचौड़ी वाले से , दुकान के नाम के पीछे की कहानी जान रह जाएँगे दंग

MBA चाय वाला तो आज तक आपने खूब सुना होगा । MBA चाय वाले को हर कोई जानता है । लेकिन अब आपको मिलाते है MBA फ़ेल कचौड़ी वाले से । जी हाँ। आपके दिमाग़ में चल रहा होगा की ये इतने सारे MBA फेल और MBA पास वाले आख़िर आ कहा से रहे है । तो आपको बता दें की ये MBA फेल कचौड़ी वाला यूपी का ही निवासी है। और यह व्यक्ति अपने दुकान के अनोखे नाम की वजह से चर्चा में है । आपको बता दें कि, ‘MBA फेल कचौड़ी वाला , लोहिया प्रतिमा के पास विकास कालोनी में रोज़ अपना कचौड़ी का ठेला गलता है और न चाहते हुए न चाहते हुए भी इनके ठेले का नाम लोगों को अपनी तरफ़ खींच ही लेता है। लेकिन ये नाम यूं ही तो कोई नहीं रखेगा ज़रूर इस नाम के पीछे कुछ इंट्रेस्टिंग छुपा है ।जी हाँ ! इस नाम में पीछे कहानी सच में काफ़ी अलग और दिल को छू लेने वाली है।

यह व्यक्ति अपने भतीजे के साथ अपना ठेला लगता है इस व्यक्ति का नाम है संजय । इनकी कहानी सुन कर आपको एक चीज़ तो आज ज़रूर समझ आ जाएगी की हौसले बुलंद हो तो आप कुछ भी कर सकते हो। संजय ने सबसे पहले BSC की पढ़ायी की और पास हो गये। इसके बाद इनके मन में MBA करने का विचार आ गया और बिना कुछ सोचे समझे और देर किए इन्होंने अपनी स्टडी शुरू कर दी । लेकिन इनके घर की आर्थिक हालत काफ़ी ख़राब थी और इस वजह से वो पढ़ायी के ऊपर ज़्यादा ध्यान नही लगा पाए और परिणाम स्वरूप वो फ़ेल हो गये। अब पढ़ायी के बीच पैसे की दिक़्क़त न आए इसलिए इन्होंने सब्ज़ी कचौड़ी की ठेली लगना शुरू कर दिया। भले ही चार साल बीत गये लेकिन संजय ने हार नहीं मानी वो अपने लक्ष्य पर अडिग रहे। उन्होंने अच्छे दिन आएँगे के भरोसे न बैठ कर अच्छे दिन लाएँगे पर ध्यान दिया ।

आपको बता दें की 2018 में बरेली के संस्थान से MBA की पढ़ायी कर रहे थे। उनको उम्मीद है की वो जल्द ही अपनी आर्थिक परेशानियों से बाहर निकल जाएँगे और फिर से अपनी MBA की पढ़ायी पूरी करेंगे। उनका भतीजा भी हाईस्कूल फेल है और वो इनकी ठेले में मदद करता है। ठेले पर ये ऑनलाइन पेमेंट से लेकर हर चीज़ की सुविधा लोगों देने का प्रयास कर रहे है ताकि वो अपना सपना पूरा कर सके।