PM Mudra Loan Yojana: लोन लेने वालों को अब 15 दिसंबर के बाद से नहीं मिलेगी ये खास छूट, जानिए...

साल 2015 में शुरू हुई प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) का लाभ देश के कई जन उठा रहे हैं। इस योजना में सरकार द्वारा 10 लाख रुपये तक का लोन देने की सुविधा शुरू की गई थी। इस लोन की शुरुआत में नॉन-कॉरपोरेट (Non-corporate), नॉन-फॉर्म लघु (non-form small) और सूक्ष्म उद्यमों (micro enterprises) शामिल हैं। जिसे कई रूपों में बांटा गया है। सरकार इसमें तरह-तरह के बदलाव और नियम भी लागू करती रहती है। वहीं, इस बार जिन लोगों ने करीब 50 हजार तक का मुद्रा लोन (Mudra loan up to 50 thousand) लिया हुआ है उनके लिए एक खास खबर है।

दरअसल, प्रधानमंत्री मुद्रा (PM Mudra Loan) की वेबसाइट के अनुसार सरकार द्वारा 2 प्रतिशत ब्याज सहायता योजना के लाभार्थियों के लिए लास्ट तारीख 15 दिसंबर, 2021 कर दी है। अब इसमें ब्याज सहायता क्लेम को 31 दिसंबर, 2021 में बंद कर दिया जाएगा। ऐसे में 15 दिसंबर के बाद से 2 प्रतिशत ब्याज स्कीम के लिए क्लेम नहीं कर पाएगा।

आपको बता दें कि 8 अप्रैल, 2015 में प्रधानमंत्री मुद्रा योजा की शुरुआत की गई थी। इस राष्ट्रीय मिशन का उद्देश्य स्वरोजगार उतपन्न करना और छोटे उद्यमियों को रोजगार देना है। इस स्कीम में मिलने वाले लोन को कई रूप में वर्गीकृत किया गया है। इसमें शिशु, किशोर और तरुण नामक 3 योजनाएं शामिल हैं।

तीनों योजनाओं में अलग-अलग लोन सुविधा

  1. शिशु लोन- 50 हजार रुपये लोन की सुविधा
  2. किशोर लोन- 50 हजार रुपये से 5 लाख रुपये लोन की सुविधा
  3. तरुण लोन- 5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये लोन की सुविधा

ऐसे मिलेगा लोन

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के तहत आपको सरकारी बैंक की शाखा में अप्लाई करना होगा। जो लोग अपना खुद का व्यापार स्टार्ट करना चाहते हैं उन्हें अपने मकान के पेपर या किराए के डॉक्यूमेंट, आईडी प्रूफ में आधार कार्ड, पैन कार्ड की फोटो कॉपी समेत अपने काम से संबंधित जानकारी देनी होगी। इन सबके बाद बैंक ब्रांच मैनेजर कारोबार संबंधित जानकारी देने के बाद आपको उसके मुताबिक पीएम मुद्रा लोन प्रदान करेगा। आप चाहें तो लोन के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा लोन की ऑफिशियल वेबसाइट पर भी अप्लाई कर सकते हैं।