Year Ender 2021: इस साल सरकार की तरफ से शुरू की गईं ये 6 स्कीम, क्या अभी तक आपने नहीं उठाया फायदा?

जनता के कल्याण के लिए भारतीय सरकार (Government Scheme 2021) द्वार साल 2021 में कई योजनाओं की शुरुआत की गई। इनमें शिक्षा से लेकर स्वास्थ्य क्षेत्रों के लिए योजनाएं शामिल हैं। लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार (Government Scheme) द्वारा कई कदम उठाए गए हैं। उनमें योजनाएं भी शामिल हैं जिनकी मदद से जनता लाभ उठा सकती है। आइए आपको कुछ योजनाओं के बारे में बताते हैं जिन्हें 2021 में सरकार ने पेश किया है...

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज बीमा योजना

24 अप्रैल, 2021 में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज बीमा योजना (Prime Minister Garib Kalyan Package Insurance Scheme) को स्वास्थ्य कर्मियों के लिए शुरू किया गया था। जिसे अब बढ़ाकर एक साल के लिए वैध कर दिया गया है। PMGKP बीमा योजना में स्वास्थ्य कर्मियों के परिजनों को व्यक्तिगत दुर्घटना होने पर 50 लाख रुपये तक का मुआवजा दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री युवा योजना

इसी साल 2021 के अगस्त में प्रधानमंत्री युवा योजना (Prime Minister's Youth Scheme) को शुरू किया गया था। इस योजना का उद्देश भारतीय युवाओं को कौशल प्रदान करना है। इसके अलावा व्यावसायिक अवसरों को सक्षम करने हेतु उद्यमिता शिक्षा प्रदान करना भी इस योजना का उद्देश है।

ग्राम उजाला योजना

इसी साल सरकार ने प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना (Pradhan Mantri Gramin Ujala Yojana) की भी शुरुआत की थी। इस योजना को एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड ने लॉन्च किया था। इस योजना का उद्देश एनर्जी एफिशिएंसी को ग्रामीण इलाकों तक पहुंचाना है। जिससे भारत के गांवों में उच्च गुणवत्ता की बिजली पहुंच सके। इसके लिए सरकार द्वारा ग्रामीण आबादी को LED Bulb सिर्फ 10 रुपये में देने को कहा था।

पीएम उम्मेद योजना

इसी साल अप्रैल, 2021 में पीएम उम्मेद योजना (PM Umaid Scheme) की शुरुआत की गई। इसका उद्देश 2025-26 साल के अंदर करीब 3 लाख युवाओं को उद्यमी बनाने को लेकर स्किल ट्रेनिंग देना है। इसके अलावा PM Umaid Scheme का उद्देश युवाओं को ऋण और रोजगार देना भी है।

क्रेडिट के अकादमिक बैंक योजना

क्रेडिट के अकादमिक बैंक योजना (Academic Bank Scheme of Credit) का उद्देश छात्रों की शैक्षणिक गतिशीलता को सुविधाजनक बना है। इसी साल ABC योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के तहत छात्रों भारत के उच्च शिक्षा संस्थानों में एक कार्यक्रम से दूसरे कार्यक्रम में जाने की स्वतंत्रत होंगे। इस योजना को राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप शुरू किया गया है।

ई-श्रम पोर्टल

इस साल के अगस्त में ई-श्रम पोर्टल (E-shram portal) की शुरुआत की गई। इसे असंगठित क्षेत्र की सहायता हेतु पेश किया था। इसमें मजदूर और दिहाड़ी मजदूर शामिल हैं। इस पोर्टल पर पंजीकृत लोगों को यूएएन कार्ड मिलता है। ये पोर्टल एक राष्ट्रीय डेटाबेस का काम करेगा। इससे जुड़े लोगों का बना ई-श्रम कार्ड भारतभर में मान्य होगा।