PM की सुरक्षा में चूक को कंगना ने बताया लोकतंत्र पर हमला, बोलीं- आतंकी गतिविधियों का गढ़ बन रहा पंजाब

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) किसी भी मुद्दे पर बेबाक बोलने से पीछे नहीं रहती हैं। इस बीच एक बार फिर एक्ट्रेस भाजपा (Bhajpa) के नेतृत्व वाली सरकार की मुखर समर्थक बनकर सामने आयी है। उन्होंने पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के साथ घटित हुई घटना की निंदा की है। गौरतलब है कि बुधवार को पंजाब में प्रदर्शनकारियों ने पीएम के काफिले को रोका, जिससे पीएम को वापस लौटने के लिए मजबूर होना पड़ा। इस घटना को एक बड़ी सुरक्षा चूक के रूप में देखा जा रहा है और इसने देशव्यापी बहस को जन्म दिया है।


आतंकवादी गतिविधियों का गढ़ बनता जा रहा है पंजाब

इस घटना को 'शर्मनाक' करार देते हुए कंगना ने अपने इंस्टाग्राम स्टोरीज पर लिखा, "पंजाब में जो हुआ वह शर्मनाक है, माननीय प्रधानमंत्री लोकतांत्रिक रूप से चुने गए नेता है और 1.4 अरब लोगों की आवाज हैं, उन पर हमला हर एक भारतीय पर हमला है..यह हमारे लोकतंत्र पर ही हमला है।" एक्ट्रेस ने आगे लिखा, "पंजाब आतंकवादी गतिविधियों का गढ़ बनता जा रहा है, अगर हमने उन्हें अभी नहीं रोका, तो देश को बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी।"

यह था पूरा मामला

बता दें कि पीएम मोदी बुधवार सुबह बठिंडा पहुंचे थे जहां से उन्हें हेलीकॉप्टर से हुसैनीवाला स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाना था। बारिश और खराब मौसम के कारण प्रधानमंत्री ने करीब 20 मिनट तक मौसम साफ होने का इंतजार किया। जब मौसम में सुधार नहीं हुआ तो यह तय हुआ कि पीएम सड़क मार्ग से राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाएंगे। डीजीपी पंजाब पुलिस द्वारा सुरक्षा प्रबंधों की आवश्यक पुष्टि के बाद प्रधानमंत्री सड़क मार्ग से यात्रा के लिए रवाना हुए। गंतव्य से करीब 30 किमी दूर जब प्रधानमंत्री का काफिला एक फ्लाईओवर पर पहुंचा तो आगे का रास्ता प्रदर्शनकारियों ने अवरुद्ध कर दिया था। प्रधानमंत्री 15-20 मिनट तक फ्लाईओवर पर फंसे रहे और उसी रास्ते से वापस जाने के लिए यू-टर्न लिया। वहीं सूत्रों के अनुसार इस घटना के बाद पीएम मोदी ने एयरपोर्ट पर अधिकारियों से कहा कि 'अपने सीएम को थैंक्स कहना कि मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा लौट पाया।